Please join, like or share our Vanipedia Facebook Group
Go to Vaniquotes | Go to Vanisource | Go to Vanimedia


Vanipedia - the essence of Vedic knowledge

HI/680108 प्रवचन - श्रील प्रभुपाद लॉस एंजेलेस में अपनी अमृतवाणी व्यक्त करते हैं

From Vanipedia

HI/Hindi - श्रील प्रभुपाद की अमृत वाणी
'कृष्ण' का अर्थ है भगवान । यदि आपके पास भगवान का कोई और नाम है, तो आप उसका भी जाप कर सकते हैं । ऐसा नहीं है कि आपको 'कृष्ण' का ही जाप करना है । लेकिन 'कृष्ण' का अर्थ भगवान होता है । कृष्ण शब्द का अर्थ है, 'पूर्ण आकर्षक' । कृष्ण, उनकी सुंदरता से, पूर्ण आकर्षक है । अपनी ताकत से, वह पूर्ण आकर्षक हैं । उनके दर्शन से, वे पूर्ण आकर्षक हैं । उनके त्याग से, वे पूर्ण-आकर्षक हैं । उनकी प्रसिद्धि से, वे पूर्ण आकर्षक हैं । पाँच हज़ार साल पहले, कृष्ण ने यह भगवद गीता कही; वह अभी भी बहुत प्रसिद्ध है ।
680108 - प्रवचन चै.च. मध्य ६.२५४ - लॉस एंजेलेस